Release id: 22/ 2017

Back to Press Room

16 February, 2018

दी एम्पलॉयर्स एसोसिएन ऑफ राजस्थान के औद्योगिक एवं तकनीकी शिक्षण संस्थान के सदस्य प्रतिनिधियों ने रील कि तकनीकी जानकारी प्राप्त करने हेतु भ्रमण एवं अवलोकन किया।

 

रील भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उद्यम मंत्रालय, भारत सरकार के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन एक मिनी रत्न सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम है। वर्ष 1981 में अपनी स्थापना के बाद से कम्पनी के पास पेशेवर व प्रबंधन, लगातार लाभदायक संचालन का प्रगतिशील ट्रैक रिकॉर्ड है। दी एम्पलॉयर्स एसोसिएन ऑफ राजस्थान द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित बेस्ट एम्पलॉय अवार्ड, (मध्यम श्रेणी उद्यम) के आठ बार से अधिक विजेता रील का ईएआर के औद्योगिक एवं तकनीकी शिक्षण संस्थान के सदस्य प्रतिनिधियों ने तकनीकी जानकारी प्राप्त करने हेतु भ्रमण एवं अवलोकन किया।

 

इस अवसर पर रील के प्रबन्ध निदे, श्री ए. के जैन ने आगन्तुक ईएआर के सदस्यों का स्वागत किया और श्री जैन ने ईएआर के अध्यक्ष श्री एन. के. जैन का आभार व्यक्त किया कि इंडस्ट्रीयल इंस्टीट्यूट इंटरफेसिंग प्रोग्राम के तहत जो आज इंडस्ट्रीयल विजिट आपने यहां आयोजित की उससे टेक्नीकल इंस्टीट्यून्स के प्रतिनिधियों को इंडस्ट्रीज की तकनीकी जानकारियों को प्राप्त करने का अवसर मिला। संक्षेप में रील एमडी श्री ए. के. जैन ने रील के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कम्पनी सीएसआईआर - सीईईआरआई के साथ दो दकों से अधिक जुड़ी हुई है और उनके संयुक्त रूप से विकसित किए गए इलेक्ट्रॉनिक मिल्क एडल्ट्रेन टेस्टर लगभग एक दक पहले किए गए संयुक्त प्रयासों का परिणाम है और आज रील भारतीय डेयरी उद्योग की आवश्यकताओं के लिए नवीनतम तकनीक और अक्षय ऊर्जा, औद्योगिक इलेक्ट्रॉनिक्स, ग्रामीण सूचना प्रोद्योगिकी के क्षेत्र में कु, विश्वनीय एवं सस्ते उत्पादों और समाधानों के माध्यम से उभरती हुई आवश्यकताओं को पूरा करने की ओर सतत् कार्य कर रही है। कंपनी ने पिछले 5-6 वर्षो के दौरान कई मील के पत्थर हासिल किए है, रील सबसे बडे ऑफ ग्रीड सेवा प्रदाता व डेयरी समाधान के रूप में उभरा है। मेगावॉट साईज के व्यवसाय में प्रवे, सरकारी योजनाओं के साथ-साथ दूरदराज के गांवो को विद्युतीकरण करने के साथ आज पूरे दे में मौजूद है, जिसमें 3.15 लाख से अधिक एसपीवी समाधानो की तैनाती 55 मेगावॉट से अधिक की कुल क्षमता के साथ 1.5 लाख गांवो में 60 लाख नागरिको को लाभान्वित कर रहा है।

 

तत्पश्चात रील के अधिकारियों ने ईएआर सदस्यों को प्लांट और रूफटॉप सोलर प्रोजेक्ट की ईकाईयों का भ्रमण कराया और आरएण्डडी, (प्रौद्योगिकी के नवाचार समाधान), तकनीकी जानकारी एवं बेस्ट बिजनेस प्रेक्टिसेस आदि विषयों पर रील द्वारा किये गये प्रयासों के बारे में विस्तार से बताया।

 

प्रोग्राम में भारतीय स्किल डवलपमेंट यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर कर्नल रवि गौंसाई, जीनस पावर इंफ्रास्ट्रक्चर के सीएमडी श्री आई. सी. अग्रवाल, श्रीकृष्णा सरिया के कार्यकारी निदेक श्री विनोद गुप्ता, नेनल इंजीनियरिंग इंडस्ट्रीज लि. के जनरल मैनेजर पर्सनल श्री देवेन्द्र सक्सेना, आर्या ग्रुप ऑफ कॉलेजेज के प्रेसीडेंट डॉ. अरविन्द अग्रवाल, यूकोरी के अध्यक्ष श्री सुभद्र पापडीवाल, आरएमसी स्वीचगियर के एमडी श्री अशोक अग्रवाल, सिमबायोसिस मैनेजमेंट के डायरेक्टर श्री विनय कालरा, कौटिल्य इंस्टीट्यूट के चेयरमेन इंजि. सी. के. बाफना, केमटेक एसोसिएट्स प्रा. लि. के श्री अजय के. गुप्ता, कैड सेंटर जयपुर के श्री राजीव भार्गव, मणिपाल यूनिवर्सिटी के निदेक श्री जी. एल. शर्मा, पिंकसिटी स्टील्स प्रा. लि. के एमडी श्री राजे शर्मा, केईसी इंटरनेनल लि. के प्लांट हैड श्री राजे कूलवाल व यूनिट हैड श्री रोहित झालानी, गिन्नी स्पेक्ट्रा के निदेक      श्री किन पौद्दार, सीएमएस के डायरेक्टर श्री संदीप शर्मा, एकेएस बियरिंग के एमडी श्री सुधीर गडिया, बीएनबी एंटरप्राईजेज के श्री बी बी शर्मा, जय सिन्टर पॉलीकोन के निदेक श्री विक्रम बैद, केईसी, प्रिमियम केवल्स एण्ड कनेक्टर्स के मालिक    श्री मोहित खण्डेलवाल, महावीर शिक्षा समिति के कोषाध्यक्ष श्री सुनील बख्शी, थायकॉन इण्डिया के प्रबंध निदेक श्री पी. सी सांघी, परम प्रोडेक्ट के प्रबंध निदेशक श्री बी. डी. खण्डेलवाल, श्री सरस्वती प्रिन्टर्स के सीईओ श्री बसंत जैन, आईएलडी राजस्थान स्कील्ड यूनिवर्सिटी के श्री मनोज डी. मेराम, हैड एकेडमिक्स एण्ड एसोसिएट प्रोफेसर (ट्रेनिंग), विद्युत वायर वर्क्स के डायरेक्टर श्री सौरभ जैन, प्रियां ज्वैलर्स के श्री राजू अग्रवाल, वुडलेण्ड इम्पेक्स के एमडी श्री अरूण ढंढारिया, सीमापुरा इंडस्ट्रीयल एरिया एसोसिएन के अध्यक्ष श्री संजीव गुप्ता व महासचिव श्री निले अग्रवाल, मंगलम सीमेंट के असिसटेन्ट वाईस प्रेसीडेंट श्री दिने भारद्वाज, आधार इन्फोनेट प्रा. लि. के निदेक श्री ललित चौधरी, दी एम्पलॉयर्स एसोसिएन ऑफ राजस्थान के मुख्य सलाहकार श्री पी. एम. भारद्वाज व सचिव श्री एस. के. पाटनी एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया।

 

इस अवसर पर भारतीय क्रिकेट जगत के उभरते सितारे एवं अण्डर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 2018 विजेता के सफल क्रिकेट प्लेयर श्री कमले नागरकोटी का ईएआर की ओर से अध्यक्ष श्री एन. के. जैन, उपाध्यक्ष श्री एस. डी. बहेती, मुख्य सलाहकार श्री पी एम भारद्वाज व सचिव श्री एस के पाटनी एवं रील प्रशासन की ओर से प्रबंध निदेक श्री ए. के. जैन एवं अन्य सहयोगीयों ने माला पहना कर स्वागत किया और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

 

इसके पश्चात ईएआर की कार्यकारिणी समिति की बैठक रील के बोर्ड रूम में आयोजित हुई।

   

*******